Saaras News - सारस न्यूज़ - चुन - चुन के हर खबर, ताकि आप न रहें बेखबर

प्रधानमंत्री आवास योजना(ग्रामीण) के अंतर्गत ठाकुरगंज प्रखंड को बिहार राज्य में प्रथम स्थान प्राप्त हुआ

Jul 16, 2021

बीरबल महतो, सारस न्यूज़।

ठाकुरगंज (किशनगंज)। प्रधानमंत्री आवास योजना(ग्रामीण) अंतर्गत वित्तीय वर्ष 2016-17 से 2020-21 के लक्ष्य के विरुद्ध विभिन्न बिंदुओं पर अधिभार देते हुए प्रखंडों का जून माह 2021 का राष्ट्रीय रैंकिंग के आधार पर ठाकुरगंज प्रखंड को बिहार राज्य में प्रथम स्थान प्राप्त हुआ है जबकि राष्ट्र स्तर पर 82 रैंकिंग प्राप्त हुआ है। ठाकुरगंज को प्रधानमंत्री आवास योजना(पीएमएआई) में सफल क्रियान्वयन में प्रथम स्थान मिलने पर स्थानीय विधायक सऊद आलम, प्रमुख रजिया सुल्ताना अंसारी सहित प्रखंड के त्रिस्तरीय पंचायत के जनप्रतिनिधियों ने प्रखंड विकास पदाधिकारी समेत सभी प्रखंड कर्मियों को बधाई दी है। इस बावत बीडीओ श्रीराम पासवान ने बताया कि लॉकडाउन के दौरान प्रधानमंत्री आवास योजना-ग्रामीण में ठाकुरगंज प्रखंड में अच्छी प्रगति हुई है। उक्त योजना के तहत ठाकुरगंज प्रखंड को राष्ट्रीय रैंकिंग के आधार पर राज्य में ओवरआल 98.64 अंक के साथ प्रथम स्थान मिला है। ग्रामीण विकास मंत्रालय, भारत सरकार के परफॉरमेंस इंडेक्स रैंकिग के अनुसार जिला के अन्य छः प्रखंड भी राज्य में बेहतर प्रदर्शन किया है और राज्य 01 से 07 रेंक में जिला के ही प्रखंड शामिल हैं। प्रखंड किशनगंज ने 98.44 अंक के साथ द्वितीय स्थान, पोठिया प्रखंड 98.44 अंक के साथ तृतीय, बहादुरगंज प्रखंड 98.38 अंक के साथ चौथा, दिघलबैंक प्रखंड 98.16 अंक के साथ पांचवां, टेढ़ागाछ प्रखंड 97.99 अंक के साथ छठा तथा कोचाधामन प्रखंड 97.85 अंक के साथ सातवां स्थान प्राप्त कर राज्य में जिला के सभी प्रखंडों ने किशनगंज जिला का नाम रौशन किया है। वहीं ठाकुरगंज प्रखंड ने राज्य के सभी प्रखंडों को पीछे करते हुए प्रथम स्थान हासिल किया है। प्रखंड ठाकुरगंज ने गत दिनों बेहतर प्रदर्शन करते हुए यह उपलब्धि हासिल की है। जिलों की राष्ट्रीय रैंकिग की बात करें तो किशनगंज जिला को राज्य में दूसरा स्थान प्राप्त हुआ है, जबकि नालंदा जिला ही किशनगंज से आगे हैं। उन्होंने बताया कि प्रखंड ठाकुरगंज ने वित्तीय वर्ष 2016 से 2021 के बीच दिए गये लक्ष्य के विरुद्ध सबसे ज्यादा आवास का निर्माण इस दौरान पूरे किए हैं। उन्होंने बताया कि आवासों के लिए स्थायी प्रतीक्षा सूची का सिस्टम कितना और कैसे अपलोड हुआ है,
ग्रामसभा की कार्यवाही के अपलोड की स्थिति, लाभुकों के आधार के सीडिंग की स्थिति, आवासों के लिए लाभुकों के रजिस्ट्रेशन की स्थिति,
आवासों की स्वीकृति की स्थिति
स्वीकृति के बाद पहले, दूसरे व तीसरे किस्तों के भुगतान की स्थिति, समय से हुआ या नहीं या कितने विलंब से हुआ,आवासों के काम शुरू होने से लेकर पूर्ण होने की स्थिति (समयबद्ध हुआ या विलंब से हुआ),पहले किस्त के बाद दूसरे किस्त की राशि के भुगतान की स्थिति तथा राजमिस्त्री प्रशिक्षण की स्थिति आदि बिंदुओं व गतिविधियों पर मार्किंग की जाती है।
उन्होंने बताया कि ठाकुरगंज प्रखंड का अव्वल होने के कई कारण है। टीम वर्क व लगातार प्रयास से यह संभव हो सका है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *


The reCAPTCHA verification period has expired. Please reload the page.

error: Content is protected !!