Saaras News - सारस न्यूज़ - चुन - चुन के हर खबर, ताकि आप न रहें बेखबर

सरदार वल्लभ भाई पटेल की मनाई गई 146 वीं जयंती। 20 नागरिकों व संस्थाओं को कोरोना योद्धा सम्मान पत्र से किया गया सम्मानित

Oct 31, 2021

बीरबल महतो, सारस न्यूज़, किशनगंज।

रविवार को भातढाला पार्क के समीप कला एवं संस्कृति मंच के बैनर तले भारत के पहले उपप्रधानमंत्री व गृहमंत्री लौह पुरूष सरदार बल्लभ  भाई पटेल की 146 वीं जयंती के अवसर पर राष्ट्रीय एकता दिवस मनाया गया। उक्त कार्यक्रम में सर्वप्रथम नगर पंचायत ठाकुरगंज के मुख्य पार्षद प्रमोद कुमार चौधरी ने आगन्तुक अतिथियों व नागरिकों को संबोधित कर सरदार वल्लभ भाई  पटेल की जीवनी पर प्रकाश डाला। इसके उपरांत कार्यक्रम में मौजूद वयोवृद्ध नागरिक राम सोगारथ साह के द्वारा राष्ट्रीय झंडा को फहराया गया।पूर्व विधायक गोपाल कुमार अग्रवाल, नपं अध्यक्ष प्रमोद कुमार चौधरी व उपाध्यक्ष संजय यादवेन्दु , वार्ड पार्षदों व स्थानीय गणमान्य नागरिकों की मौजूदगी में राष्ट्रीय झंडे के सलामी के बाद जन गण मन राष्ट्रीय गान गाया गया। इसके बाद अतिथियों ने सरदार पटेल की तैलीय चित्र के समक्ष दीप प्रज्वलित कर पुष्पांजलि अर्पित की। इसके बाद कोरोना के पहले व दूसरे लहर में स्थानीय लोगों तथा संस्थाओं के द्वारा किए गए मानवीय सेवाओं के लिए कोरोना योद्धा सम्मान पत्र से सम्मानित किया गया। इस मौके पर नपं अध्यक्ष प्रमोद कुमार चौधरी ने सरदार पटेल के जीवनी पर प्रकाश डालते हुए कहा कि सरदार वल्लभ भाई पटेल देश की एकता और अखंडता के प्रतीक तथा आधुनिक भारत के शिल्पकार हैं। आजादी के बाद सैकड़ों रियासतों में बिखरे भारत का एकीकरण कर उन्होंने आज के मजबूत भारत की नींव रखी। उनका दृढ़ नेतृत्व, राष्ट्र समर्पण व विराट योगदान भारत कभी नहीं भुला सकता। इस मौके पर पूर्व विधायक गोपाल कुमार अग्रवाल ने कहा कि भारत रत्न से सम्मानित देश के प्रथम गृह मंत्री सरदार बल्लभ  भाई पटेल ने देश के आजाद होने के बाद अपनी बुद्धिमता से देश को एकसूत्र में बांधे रखने में महत्ती भूमिका निभाई थी। करीब 565 रियासतों को देश से जोड़कर देश की एकता और अखंडता बनाने में एक लंबी लकीर खींची।आज के दिन हम सभी को यह संकल्प पुनः दुहराने की जरूरत है कि राष्ट्र की एकता, अखंडता और सुरक्षा को बनाए रखने के लिए स्वयं को सदैव समर्पित करेंगे।स्वच्छ सर्वेक्षण 2022 के ब्रांड एंबेसडर प्रदीप्त दत्ता ने कहा कि स्वतंत्रता की लड़ाई में सरदार बल्लभ  भाई पटेल के योगदान को देखते हुए उन्हें भारत का लौह पुरुष कहा जाता है। सरदार पटेल का जन्म 31 अक्टूबर 1875 को गुजरात के खेड़ा जिले में हुआ था। सरदार पटेल स्वतंत्रता प्राप्ति के बाद देश की रियासतों का एकीकरण कर अखंड भारत के निर्माण का श्रेय उनकी सियासी और कूटनीतिक क्षमता को दिया जाता है।उनके जयंती पर सन् 2014 से हर साल 31 अक्टूबर को नेशनल यूनिटी डे अर्थात राष्ट्रीय एकता दिवस के रूप में मनाया जाता है। वहीं दूसरी ओर आनन्द मार्ग जागृति स्कूल के प्रांगण में पटेल सेवा संघ के बैनर तले भी भारत रत्न सरदार बल्लभ  भाई पटेल की जयंती मनाया गया। इस मौके पर शेखर चंद्र अग्रवाल, नंदकिशोर गाड़ोदिया,अक्षय सिंहा, रविलाल गोसाई,विनय मैत्र, सुमन भारत, सिकंदर पटेल, सकलदेव पासवान, दिलीप यादव, जयंत लाहिड़ी, चयन कुमार, रंजीत सरकार आदि गणमान्य नागरिक शामिल हुए।
20 नागरिकों व संस्थाओं को कोरोना योद्धा सम्मान पत्र से किया गया सम्मानित।:- रीगल रिसोर्सेस प्राइवेट लिमिटेड के प्रबंध निदेशक अनिल किशोर पुरिया, अंचल अधिकारी ओमप्रकाश भगत,सर्किल पुलिस इंस्पेक्टर सुनील कुमार पासवान, थानाध्यक्ष ठाकुरगंज मोहन कुमार, पीएचसी ठाकुरगंज के प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी डॉ आदित्य कुमार झा, जनकल्याण मंच ठाकुरगंज के अध्यक्ष सिकंदर पटेल, ठाकुरगंज क्रिकेट क्लब के अध्यक्ष कन्हैया लाल महतो, आनंद मार्ग प्रचारक संघ के भुक्ति प्रधान सुमन भारती, सेवानिवृत्त डालपाल गंगा प्रसाद मंडल,सीआरपीएफ के सहायक कमान्डेंट विश्वजीत झा,मारवाड़ी युवा मंच ठाकुरगंज, विमला मेडिकल शॉप के महेंद्र सिंह, युथ ऑफ ठाकुरगंज, ऊर्दू कॉलोनी ठाकुरगंज के मो जमालुद्दीन, आश्रमपाड़ा के युवा क्लब, शुभम देवनाथ तथा इम्मयूनल हॉस्पिटल एसोसिएशन के रिलीफ कॉर्डिनेटर सुभाष दास को कला एवं संस्कृति मंच, ठाकुरगंज के द्वारा कोरोना योद्धा सम्मान पत्र से सम्मानित किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *


The reCAPTCHA verification period has expired. Please reload the page.

error: Content is protected !!